शहीदे वतन को सलाम हमारी ज़िन्दगी उनकी कुर्बानियों की कर्जदार है : सय्यद सलमान चिश्ती

26 जुलाई,नई दिल्ली
ग्लोबल काउंटर टेररिज्म काउंसिल द्वारा कारगिल विजय दिवस पर इंडिया गेट नई दिल्ली में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत केंद्रीय जल शक्ति मंत्री,के साथ हरदीप सिंह पुरी केंद्रीय उड्डयन मंत्री,श्री शिवपद यस्सो नायक केंद्रीय राज्य मंत्री रक्षा एवम आयुष के साथ पूर्व चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ जरनल जे जे सिंह, पूर्व लेफ्टिनेंट जनरल के जे सिंह, मनिंदर सिंह बिट्टा, श्रीमती तृप्ता थापर के साथ आल इंडिया उलमा व मशाईख बोर्ड के संयुक्त सचिव, चिश्ती फाउंडेशन के अध्यक्ष व दरगाह अजमेर शरीफ के गद्दीनशीन सय्यद सलमान चिश्ती ने शिरकत की।
इस अवसर पर कारगिल के वीरों को याद किया गया और वतन पर कुर्बान होने वाले वीरों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई, अमर जवान ज्योति पर पुष्प अर्पित करने के बाद सभी ने अपने विचार रखे इस अवसर पर बोलते हुए सय्यद सलमान चिश्ती ने कहा कि हम शहीदे वतन को अपना सलाम पेश करते हैं क्योंकि हमारी ज़िन्दगी उनकी कुर्बानियों की कर्जदार है, उन्होंने कहा कि अगर सरहद पर सिपाही चौकन्ने न खड़े हों तो हम अपने घरों में चैन की नींद नहीं सो सकते।
इस मुल्क की तरक्की में जहां किसानों मजदूरों का पसीना है वहीं इसकी बुनियाद में शहीदों का लहू है, उन्होंने आह्वाहन किया कि पूरे देश को चाहिए कि इनके परिवारों की हर मुमकिन मदद की जाए क्योंकि हमारा आपका अगर जो भी सम्मान है उसे बचाने में इनके अपनों का खून बहता है लिहाजा हर सैनिक और उसके परिवार को हर नागरिक द्वारा सम्मान दिया जाना चाहिए।
उन्होंने कहा कि मुबारकबाद है उनको जिन्होंने ऐसा खूबसूरत कार्यक्रम सजाया देश के वीरों के लिए क्योंकि अगर हमने अपने वीरों का शुक्रिया अदा नहीं किया उनकी कुर्बानियों को सलाम नहीं किया तो यकीन मानिए हमने अपना फ़र्ज़ नहीं अदा किया, सय्यद सलमान चिश्ती ने कहा कि अजमेर शरीफ से जो संदेश दिया जाता है “मोहब्बत सबके लिए नफरत किसी से नहीं” हमें इसे याद रखना चाहिए क्योंकि अगर हम इस बात को याद रखेंगे तो हमारा मुल्क आगे बढ़ेगा क्योंकि नफरतों से कभी फायदा नहीं होता सिर्फ नुकसान होता है वहीं नफरत से अमन खराब होता है जिससे हमारे जवानों की कुर्बानियों का मकसद हल नहीं होता।

By: Yunus Mohani