HomeNewsStatements

हर हिन्दोस्तानी के दिल में है तिरंगा, यह है हमारी शान: सय्यद सलमान

अजमेर :15 अगस्त तिरंगा हर हिन्दोस्तानी के दिल में है और यह हमारी आन बान शान है, यह बात राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विध्यालय में झंडा रोहन के लिए आये आल

अजमेर :15 अगस्त तिरंगा हर हिन्दोस्तानी के दिल में है और यह हमारी आन बान शान है, यह बात राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विध्यालय में झंडा रोहन के लिए आये आल इंडिया उलमा मशाइख बोर्ड के संयुक्त राष्ट्रिय सचिव व दरगाह अजमेर शरीफ के गद्दीनशीन सय्यद सलमान चिश्ती ने कही. उन्होंने कहा कि हर हिन्दोस्तानी के दिल में तिरंगा बस्ता है, हमारी पहचान बहार मुल्कों में हमारे झंडे से होती है, आपने देखा होगा लोग जब हज के लिए काबे में पहुँचते हैं तो उनमे से भी कुछ लोग तिरंगा थामे होते हैं जो यह बताता है कि यह काफिला हिन्दोस्तानियों का है.
हम अपने झंडे का अपमान कभी बर्दाश्त नहीं कर सकते, हम सर कटा सकते हैं लेकिन अपने झंडे को झुकने नहीं दे सकते.
उन्होंने बताया कि आल इंडिया उलमा मशाइख बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा चिश्तिया मंजिल दरगाह अजमेर शरीफ में भी हम सबका सम्मान तिरंगा लगाया गया है जो दरगाह शरीफ परिसर में ही है, यह संदेश है हर भारतीय के लिए कि अपने हर समारोह में तिरंगे को ज़रूर लगाया जाये और उसका पूरा सम्मान भी किया जाये, यह हमारा राष्ट्रध्वज है और हम पर फ़र्ज़ है कि हम इसका सम्मान करें.
सय्यद सलमान चिश्ती ने कहा कि किसी को इस बात से इनकार करने का कोई हक़ नहीं है कि वह राष्ट्रिय ध्वज नहीं फहरायेगा या राष्ट्रगान नहीं गायेगा, जब बात देश की होगी तो हम इस पर समझौते को तैयार नहीं हैं, राष्ट्र का सम्मान ही हमारा सम्मान है और हाल में राष्ट्रगान को लेकर हो रहे विवाद का कोई मतलब नहीं है, यह आज़ादी के बाद से हमेशा गया जाता आया है और गया जाता रहेगा.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0