वक्फ के लुटेरे कौम के सबसे बड़े दुश्मन : सय्यद मोहम्मद अशरफ

मोगा /पंजाब:23जुलाई
आल इंडिया उलमा मशाइख बोर्ड के संस्थापक अध्यक्ष हज़रत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी ने कहा कि वक्फ की जाईदादों पर अवैध कब्ज़े कर उन्हें बेचने वाले मुस्लिम कौम के सबसे बड़े दुश्मन हैं, कौम को इनके खिलाफ मजबूती से खडा होना होगा.

उन्होंने मुज़फ्फरनगर में वक्फ की ज़मीन को लेकर हुए बवाल को गंभीरता से लेते हुए कहा कि अब यह लगभग रोज़ की कहानी हो गयी है, कुछ खबरे अपनी गंभीरता को लेकर बड़ी हो जाती हैं तो मीडिया की सुर्खियाँ बन जाती हैं लेकिन वक्फ की ज़मीनों पर अवैध कब्ज़े तो रोज़ हो रहे हैं और धीरे धीरे वक्फ सिकुड़ते चले जा रहे हैं .

हज़रत ने कहा कि मुसलामानों के लिए वक्फ ज़मीनों की हिफाज़त बड़ा मुद्दा है, जिस तरफ हमारा ध्यान नहीं है. आल इंडिया उलमा मशाइख बोर्ड यह लड़ाई लड़ रहा है, हर तरफ या तो गलत लोग वक्फ बोर्ड पर काबिज़ हैं या ज़मीनों के कारोबारी, सरकारों का रवय्या भी निराशाजनक है अब हमे एकजुट होकर अपने इस सरमाये को बचाना होगा, हज़रत ने बिहार सरकार से मुज़फ्फरनगर की घटना की निष्पक्ष जाँच कर दोषियों के विरूद्ध उचित कार्यवाही करने की मांग की है साथ ही यह भी कहा कि सरकार वक्फ की ज़मीनों से अवैध कब्ज़े हटवाए और वक्फ पर काबिज़ उन लोगों को भी हटाए जिनका वक्फ से कोई ताल्लुक नहीं है.

हज़रत किछौछवी ने बस्ती निज़ामुद्दीन नई दिल्ली स्थित मस्जिद फिर्दौसिया का ज़िक्र करते हुए कहा कि वक्फ में दर्ज इस मस्जिद को लेकर DDA अपना रुख साफ़ नहीं कर रहा जबकि न्यायालय की इस पर रोक लगाई हुई है यह सैकड़ों साल पुरानी मस्जिद है इसे कोई नुक्सान नहीं पहुंचा सकता. आल इंडिया उलमा मशाइख बोर्ड मांग करता है कि उपराज्यपाल महोदय इस सम्बन्ध में स्पष्ट आदेश जारी कर इस संशय पर विराम लगायें .
यूनुस मोहानी