देश भक्ति का सैलाब है मुल्क में, भारत का भविष्य सुनहरा : सय्यद मोहम्मद अशरफ

26 जनवरी, नई दिल्ली
आल इंडिया उलमा व मशाइख़ बोर्ड के अध्यक्ष एवं वर्ल्ड सूफी फ़ोरम के चेयरमैन हज़रत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी ने सभी देशवासियों को 71वां गणतंत्र दिवस की बधाई देते हुए कहा कि आज देश में देश भक्ति का सैलाब आया है जिसने दुनिया को संदेश दिया है कि भारत का भविष्य बहुत सुनहरा है।
उन्होंने लोगों को शिक्षा के लिए आंदोलन चलाने की बात कही, उन्होंने कहा कि सभी को इस ओर ध्यान देना है और लोगों को जिनके पास पैसे हैं, जो अपने बच्चों को पढ़ाने के अलावा दूसरे बच्चे की फीस जमा कर सकता है वह करे, जो दो बच्चों की फीस भर सकता है भरे और जो 4 बच्चे पढ़ा सकता है पढ़ाए क्योंकि मुल्क और समाज की तरक्की शिक्षा से ही होगी।
हज़रत ने कहा कि लोगों को हिंसा से अराजकता से बिल्कुल बचते हुए लोकतांत्रिक तरीके से अपनी बात रखनी चाहिए,हमें ख्याल रखना चाहिए कि किसी भी हालत में देश का नुक़सान न होने पाए, यह खुशी की बात है कि लोगों में जिस तरह का ज़ज़्बा अपने संविधान और देश के लिए देखा जा रहा है, जो बताता है कि मुल्क का भविष्य सुनहरा है और किसी भी विदेशी ताकत में यह ताकत नहीं है कि वह हमारे इस चमन को बांट पाए।
आज हर हाथ में तिरंगा है, हर ज़ुबान पर संविधान यह भारत की ताकत को दर्शाता है कि भले हज़ार असहमतियां हों लेकिन देश की बात आएगी हमारे तिरंगे के सम्मान की बात आएगी तो हम एकजुट हैं, सरकार और जनता के बीच खींचतान तो लोकतंत्र की खूबसूरती है लेकिन इसमें हिंसा का कोई स्थान नहीं है, सभी को गणतंत्र दिवस की बधाई और यह अपील भी कि इस चमन को आग से बचा कर रखना है ताकि यह फूल खूब खिले, खूब महके, वतन में हमेशा फसले बाहर रहे।

Yunus Mohani

जामिया में पुलिसिया दमन भारत के भविष्य पर हमला :सय्यद मोहम्मद अशरफ

15 दिसंबर, नई दिल्ली
आल इंडिया उलमा व मशाइख़ बोर्ड के अध्यक्ष एवं वर्ल्ड सूफी फ़ोरम के चेयरमैन हज़रत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी ने जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के अंदर घुस कर जामिया के छात्र छात्राओं पर पुलिस के लाठीचार्ज की कड़ी निन्दा की है।
हज़रत ने कड़े शब्दों में कहा कि यह भारत के भविष्य पर हमला है केंद्र सरकार को फौरन स्थिति को संभालना चाहिए, देश में जिस तरह का माहौल पनप रहा है वह बेहतर नहीं है लोगों में चिंता और भय है सरकार को इसे दूर करना चाहिए, हज़रत ने छात्रों से भी शांति की अपील करते हुए कहा कि कानून को किसी भी हाल में हाथ में न लें शांति और संयम बनाए रखे।
हज़रत ने दिल्ली पुलिस की इस बर्बर कार्यवाही को निकम्मापन करार दिया,उन्होंने कहा कि अगर बिना इजाज़त विश्विद्यालय में पुलिस घुसी है तो इसकी जांच होनी चाहिए और दोषियों पर कड़ी कार्यवाही की जानी चाहिए, विश्विद्यालय पढ़ने की जगह है पुलिसिया तांडव की नहीं इसके लिए सरकार को फौरन क़दम उठाने चाहिए। बच्चों के साथ कोई गलत बर्ताव नहीं किया जाए और उन्हें सकुशल उनके घर भेजा जाय।

By: Yunu Mohani

हर घर पर तिरंगा लहराएँ और मुल्क की तरक्की व अमन की दुआ करें : सय्यद सलमान चिश्ती

अजमेर (31 जुलाई)
हर घर पर तिरंगा लगायें और मुल्क की तरक्की और अमन कि दुआ करें यह बात आल इंडिया उलेमा मशाइख बोर्ड के संयुक्त सचिव हज़रत सलमान चिश्ती ने कही .उन्होंने कहा कि 15 अगस्त आ रहा है जो हमारे देश की आज़ादी का पर्व है इस त्यौहार में सबको बढ़ चढ़ कर शरीक होना है और हमे अपने उन स्वतंत्रता सेनानियों को याद करना है जिनकी कोशिशों और कुर्बानियों की वजह से हमे यह आज़ादी मिली है अब इस आज़ादी को बरकरार रखना हमारा फ़र्ज़ है और हमारी ज़िम्मेदारी. यह बात हज़रत सलमान चिश्ती ने 31 जुलाई को चिश्तिया मंजिल में आल इंडिया उलेमा मशाइख बोर्ड द्वारा आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में कही
बोर्ड के संरक्षक हज़रत सय्यद मोहम्मद मेहँदी मिंयाँ चिश्ती ने बताया कि आल इंडिया उलेमा मशाइख बोर्ड ने एलान किया है कि चाँद की 12 तारीख को हर महीने दुरूद डे मनाया जायेगा और दुनिया में अमन कि ख़ास दुआ की जायेगी लिहाज़ा अजमेर शरीफ में भी चाँद के हर 12 तारीख को दुरूद डे मनाया जायेगा क्योंकि यह वक़्त की ज़रूरत है कि जो हमारा खुदा और रसूल से ताल्लुक कम हुआ है उसे वापिस मज़बूत किया जाये और फिर दुनिया में शांति स्थापना के लिए दुआ की जाये . .
सय्यद शाहिद मिंयाँ चिश्ती ने कहा कि हमारा काम हज़रत ख्वाजा गरीब नवाज़ रहमतुल्लाहअलहि के पैगाम को आम करना है और वह पैगाम है “मोहब्बत सबके लिए नफरत किसी से नहीं “यही हमारा मिशन है और इसी में दुनिया की भलाई है ..
दरगाह अजमेर शरीफ पर छठी शरीफ के मौके पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में बोर्ड के संरक्षक हज़रत सय्यद मोहम्मद मेहँदी मियां चिश्ती बोर्ड के संयुक्त सचिव सय्यद सलमान चिश्ती ,अजमेर शाखा के संरक्षक हज़रत सय्यद शाहिद मिंयाँ चिश्ती, चित्तौड़गढ़ शाखा के अध्यक्ष सलीम अशरफी आल इंडिया उलेमा मशाइख बोर्ड के दिल्ली कार्यालय के ज़िम्मेदार मुख़्तार अशरफ मौजूद रहे .