HomeUncategorized

युवाओं को नशे से बचाने के करने होंगे प्रयास : ऑल इंडिया उलमा मशाइख बोर्ड

1 अगस्त, 2019 (मोगा) नशे की लत (चाहे किसी भी तरह का नशा हो) शरीर को होने वाली ऐसी ज़रूरत है जिस पर नियंत्रण रखना बस में नही होता है। नशा शरीर और दिमा

دہلی عرس کمیٹی کی طرف سے سید محمد اشرف کو مومینٹو پیش کیا گیا
अल्पसंख्यकों में विश्वास के लिए सुरक्षा ज़रूरी : सय्यद मोहम्मद अशरफ
वहशी लोग मुल्क जलाना चाहते हैं होशियार रहिये : सय्यद मोहम्मद अशरफ

1 अगस्त, 2019 (मोगा)

नशे की लत (चाहे किसी भी तरह का नशा हो) शरीर को होने वाली ऐसी ज़रूरत है जिस पर नियंत्रण रखना बस में नही होता है। नशा शरीर और दिमाग दोनों नष्ट कर देता है जिस से इन्सान ज़िन्दा होते हुए भी ज़िन्दा नहीं रहता।

भारत में सबसे ज़्यादा पंजाब राज्य के नौजवान ड्रग एडिक्शन या नशे की लत के शिकार हैं, इस फैलती हुई बर्बादी को रोकने के लिए ऑल इंडिया उलमा मशाइख बोर्ड पंजाब यूनिट के ज़िला प्रधान मौलाना रमज़ान साहब ने कहा कि पंजाब में फैलती हुई नशे की लत को खत्म करने के लिए ऑल इंडिया उलमा मशाइख बोर्ड हर मुमकिन कोशिश कर रहा है जिसमें लोगों का काफी सहयोग मिल रहा है।

नशे की लत किसी की भी ज़िंदगी तबाह कर देती है। सजग रहें और अपने आसपास के लोगों (ख़ास कर नौजवानों) का ध्यान रखें कि कहीं वे नशा के शिकार तो नहीं हो रहे हैं।

By: हुसैन शेरानी

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0