मौजूदा सत्र में ईश निंदा कानून लाए सरकार : सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी

HomeUncategorized

मौजूदा सत्र में ईश निंदा कानून लाए सरकार : सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी

23 नवंबर अजमेर शरीफ, चिश्ती मंजिल झालरा अजमेर शरीफ में ऑल इंडिया उलमा व मशाईख बोर्ड ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया, प्रेस को बोर्ड के संस्थाप

रमज़ान में पूरे जोश के साथ वोट करें मुसलमान : सय्यद मोहम्मद अशरफ
मुसलमान खुद हैं जिम्मेदार सुधार करें : सय्यद मोहम्मद अशरफ
देश को नए अफसर नई ऊँचाइयों पर ले जाएँगे : सय्यद मोहम्मद अशरफ

23 नवंबर अजमेर शरीफ,

चिश्ती मंजिल झालरा अजमेर शरीफ में ऑल इंडिया उलमा व मशाईख बोर्ड ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया, प्रेस को बोर्ड के संस्थापक अध्यक्ष एवम वर्ल्ड सूफी फोरम के चेयरमैन हजरत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी और बोर्ड के संयुक्त सचिव दरगाह अजमेर शरीफ के गद्दीनाशीन हजरत सलमान चिश्ती ने संबोधित किया।
इस मौके पर पत्रकारों के वसीम रिज़वी के बारे में सवाल पर हजरत किछौछवी ने सख्त लहजे का इस्तेमाल करते हुए कहा कि सरकार को ऐसे घिनौने आदमी पर फौरन कार्यवाही करनी चाहिए इसे खुली हवा में सांस लेने का कोई हक नहीं है, उन्होंने कहा वसीम रिज़वी ने देश के ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण विश्व के मुसलमानों की भावनाओं को आहत किया है सिर्फ मुसलमान ही नहीं बल्कि हर इंसाफ पसंद इंसान को दुख पहुंचाया है।


उन्होंने कहा सिर्फ पैगंबर हज़रत मोहम्मद मुस्तफा सल्लल्लाहू अलैहि वसल्लम के बारे में ही नहीं बल्कि किसी भी मजहब के पेशवा की शान में गुस्ताखी करने वाले को सजा मिलनी चाहिए।


हज़रत ने कहा कि हम भारत सरकार से मांग करते हैं कि मौजूदा संसद के सत्र में ईश निंदा बिल लाया जाए और संसद द्वारा ईश निंदा कानून पास किया जाए, कानून बन जाने के बाद कोई सरफिरा ऐसी हरकत करने की हिम्मत नहीं करेगा और अगर करेगा तो सख्त कानून के जरिए उसे सजा मिलेगी ऐसे लोगों को कम से कम 10 साल की सजा दी जानी चाहिए।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0