नफरत की ज़बान से मुल्क का नुकसान : सय्यद मोहम्मद अशरफ

कोलकाता/5 मार्च
“नफरत की ज़बान से मुल्क का नुकसान” यह विचार एक कार्यक्रम में बोलते हुए आल इंडिया उलेमा व मशायख बोर्ड एवं वर्ल्ड सूफी फोरम के अध्यक्ष हज़रत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी ने रखे.
हज़रत ने कहा इबादतगाहों के लिए इंसानी खून को बहाने की बात करना मूर्खता है,क्योंकि इश्वर की आराधना के लिये बेगुनाहों का खून बहा देना धर्म नहीं हो सकता इसलिए देश के लोगों को सावधान होना चाहिए क्योंकि नफरत से किसी चीज़ का हल नहीं निकल सकता .
सूफी संतो ने हमेशा मोहब्बत का पैगाम दिया है उन्होंने कहा कि सीरिया के लोगों की जो दुर्दशा है उसकी कहानी भर सुन लेने से रूह काँप जाती है अगर भारत में कोई इस तरह की बात कर रहा है तो वह देश का भला नहीं कर रहा .
अमन वाले सभी लोगों को देश के लिए एक जगह आकर नफरतों की आग को बुझाना होगा और यह मोहब्बत के सिवा संभव नहीं है .हिंसा से कुछ हासिल नहीं किया जा सकता हाँ देश और दुनिया में सिर्फ तबाही हो रही है .क्योंकि कभी आग को आग से नहीं बुझाया जाता.
हज़रत ने कहा कि मुसलमानों को ख़ास तौर पर अफवाहों से बचना चाहिए क्योंकि अफवाहों से लोगों में गुस्सा भरने के प्रयास भी किये जा रहे हैं .

By: Yunus Mohani