HomeNewsStatements

अली वाले सिर्फ मोहब्बत की बात करते हैं नफरत खुद बखुद हार जाती है -सय्यद अशरफ

मुरादाबाद :आह्लाददपुर में आल इंडिया उलेमा व मशाइख बोर्ड के क़ौमी सदर हज़रत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी ने जश्ने मौलूदे काबा में बोलते हुए कहा कि हज़रत अली

ईद के नाम पर फिज़ूलख़र्ची के बजाये ज़रूरतमंदों की मदद करे मुसलमान: ए.आई.यू.एम.बी
जो लोगों के लिए आसानी पैदा करे उस पर दोज़ख़ की आग हराम : सय्यद मोहम्मद अशरफ
अयोध्या मुद्दे का समाधान केवल बातचीत से: सय्यद मोहम्मद अशरफ

मुरादाबाद :आह्लाददपुर में आल इंडिया उलेमा व मशाइख बोर्ड के क़ौमी सदर हज़रत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी ने जश्ने मौलूदे काबा में बोलते हुए कहा कि हज़रत अली से मोहब्बत का दावा करने वाले यह बात गांठ बांध लें कि अली वाले सिर्फ मोहब्बत वाले हैं नफरतों से उनका कोई रिश्ता नहीं है।नफरत तो दुश्मनाने अली का काम है अब आप खुद फैसला करें कि आप अली वाले हैं या नहीं।
हज़रत ने कहा कि सूफ़िये इकराम ने इसी पैग़ाम को आम किया और सभी से मोहब्बत की जिसकी बुनियाद पर आज इनके आस्तानों पर हर मज़हब हर मसलक हर फ़िक्र के लोग नज़र आते हैं।नफरतों को मिटने के लिए सिर्फ एक ही हथियार है मोहब्बत और इसे हमे अपने घरो से चलाना है मुसलमानो को कोशिश करनी चाहिए की उनमे आपसी कोई इख्तेलाफ़ात न हो आपसी झगड़ों को बड़ों की मदद से घर में ही सुलझाएं ताकि बेफिज़ूल अदालतों का बोझ न बढे और न ही आप परेशान हों।
घरों में मोहब्बत वाला माहौल बनाया जाये सब्र से काम लें जब घरों का माहौल मोहब्बत वाला होगा तो खुद बखुद हम बाहर भी उसी अंदाज़ में नज़र आएंगे क्योंकि जिस तरह के हालात बन रहे हैं चंद मुट्ठी भर नफरत परस्त लोग मुल्क़ का माहौल बिगड़ने पर आमादा हैं उन्हें रोका जा सकता है तो सिर्फ मोहब्बत के ज़रिये नफरत किसी चीज़ का हल नहीं है।
हज़रत ने पुरे आलम को जश्ने मौलूदे काबा की मुबारकबाद दी और लोगों से कहा कि मौलूदे काबा के मौके पर अहद करें कि हम अपने बच्चो को हर हाल में पढ़ाएंगे यही मौलये क़ायनात से हमारी मोहब्बत है सिर्फ नारेबाजी से कुछ हासिल नहीं होगा अमल में शामिल करना होगा मोहब्बत वाले बनिए इल्म वाले बनिए तभी दरे अली से मुस्तफा करीम तक पहुँच सकते हैं।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0