सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास सराहनीय हम स्वागत करते हैं : सय्यद मोहम्मद अशरफ

25 मई / मक्का, सऊदी अरब

आल इंडिया उलमा व मशाइख बोर्ड के संस्थापक अध्यक्ष एवम् वर्ल्ड सूफी फोरम के चेयरमैन हज़रत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दुबारा एनडीए के नवनिर्वाचित संसदीय दल के नेता चुने जाने के बाद दिये गए भाषण में नई सरकार का एजेंडा प्रस्तुत करते हुए अल्पसंख्यकों में विश्वास पैदा करने की बात एवम् सरकार के नये नारे “सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास” की सराहना करते हुए कहा कि हम इसका स्वागत करते हैं।
आल इंडिया उलमा व मशाइख़ बोर्ड ने प्रधानमंत्री को भेजे गए अपने बधाई संदेश में प्रधानमंत्री से यही बात कही थी कि बिना देश के अल्पसंख्यक वर्ग को विश्वास में लिए देश का सतत विकास संभव नहीं है, अपने भाषण में इस बात को कहकर और नई सरकार के मूल मंत्र के रूप में इसे अंगीकृत कर उन्होंने बताया है कि देश के अल्पसंख्यक वर्ग को बिना भेदभाव के भारत के विकास में भागीदारी मिलेगी।
किछौछवी ने कहा कि हम इस बयान की सराहना करते हैं और दुआ करते हैं कि मुल्क तरक्की की नई कहानी लिखे जिसमें भारतीय मुसलमानों का योगदान भी उल्लेखनीय हो, यदि सरकार इस दिशा में ईमानदार प्रयास करती है तो गरीबी और नफरत के खिलाफ यह सबसे बड़ी कामयाबी होगी, उन्होंने कहा कि मोहब्बत सबके लिए नफरत किसी से नहीं का मंत्र ही विकास का मंत्र है।