अजमेर उर्स से दंगे में तबाह हुए लोगों की हर संभव मदद का संकल्प

आल इंडिया उलमा व माशाइख़ बोर्ड की सभी लोगों से मदद की अपील

1 मार्च 2020,रविवार,
अजमेर आल इंडिया उलमा व मशाइख़ बोर्ड ने दरगाह स्थित चिश्ती मंज़िल में एक प्रेस कांफ्रेंस कर देश के सभी लोगों से दिल्ली में दंगों से प्रभावित लोगों की मदद का संकल्प लेते हुए लोगों से संभव मदद की अपील की,बोर्ड के अध्यक्ष हज़रत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी ने प्रेस को बताया कि आल इंडिया उलमा व मशाइख़ बोर्ड ने यह फैसला किया है कि दिल्ली में दंगों से जो लोग बर्बाद हुए है उनकी हर संभव मदद कर उनके विश्वास को बहाल किया जाएगा ,लोगों की मदद बिना उनका धर्म या जाति देखे करनी है ।

हज़रत ने कहा कि बोर्ड के अध्यक्ष के नाते मैं व्यक्तिगत रूप से एक लाख रुपए इस काम के लिए पेश कर रहा हूं और बोर्ड के सब प्रदेशों और जिलों की शाखाओं के जिम्मेदारों से भी इस काम में जुट जाने की अपील करता हूं यह मुश्किल वक़्त हैं और यही समय लोगों के साथ खड़े होने का है ताकि उनका देश में और मानवता में विश्वास मजबूत हो।गरीब नवाज़ की बारगाह से उर्स के मुबारक मौके पर यही संदेश है कि आइए लोगों की मदद की जाय जिनके घर दुकानें तबाह हुई हैं उनको दुबारा खड़ा करने में जो मुमकिन मदद हो सके की जाए ,सभी लोगों को उर्स की मुबारकबाद और यही संदेश जो गरीब नवाज़ का संदेश है कि नफरत किसी से नहीं मोहब्बत सब के लिए।
बोर्ड की राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य हज़रत अम्मार अहमद अहमदी उर्फ नय्यर मियां ( रुदौली शरीफ) ने कहा कि देश में जिस तरह के हालात पैदा हो रहे हैं और लोगों में एक दूसरे के प्रति जैसी नफरत पनप रही है उसको रोकने का मात्र उपाय सूफिया के तरीके को अपनाने में है वह तरीका यह है कि हम किसी की नफरत का जवाब अपनी मोहब्बत से दे यह वक़्त लोगों को सहारा देने का है सबके विश्वास को बहाल करने का है बोर्ड का यह निर्णय सराहनीय है हम सब इसके साथ है और लोगों से इस मुहिम में जुड़ने की अपील करते हैं ,गरीब नवाज़ के उर्स का यही संदेश कि मजलूम की हर संभव मदद की जाय और लोगों तक पहुंच कर उनकी मदद की जाए।
हज़रत सय्यदी मियां (मकनपुर शरीफ) ने कहा कि सिसकती मानवता को मुहब्बत के ठंडे पानी की जरूरत है हमें लोगों को बताना होगा कि इस प्यारे मुल्क में जहां से मीरे अरब को ठंडी हवा आती हो वहां गंगा के मिजाज़ को समझना होगा जिसके पानी को हिन्दू भाई अकीदत से पीते हैं और जिसमें स्नान कर पाप धो लेते हैं उसी गंगा के पानी से गुरुद्वारे में पवित्र लंगर बनता है और उसी गंगा के पानी से मुसलमान वज़ू कर रब का सजदा करते हैं हमें इससे सीखना होगा यही मिजाज़ सूफिया का है जो सबके लिए मुहब्बत बांटते हैं और नफरत के ज़हर को मिटा देते हैं।उन्होंने कहा कि बोर्ड का यह क़दम सूफिया के तरीकेकार पर अमल करने वाला है लोग मदद को आगे आएं ,सभी को ख़्वाजा का उर्स मुबारक।
बोर्ड के संयुक्त राष्ट्रीय सचिव हज़रत सय्यद सलमान चिश्ती ने कहा कि लोगों को मुहब्बत की जरूरत है और नादानी में नफरत के सौदागर उन्हें बहका रहे हैं हमें आगे आकर लोगों को मुहब्बत का संदेश देना है और गरीब नवाज़ के मिशन को आगे बढ़ाना है,ख़्वाजा का मिशन मोहब्ब्त को आम करना है और नफरत की आग को मुहब्बत के पानी से बुझा देना है,उन्होंने बोर्ड की पहल का समर्थन करते हुए लोगों से अपील की जो जहां भी है और जितनी भी संभव मदद कर सकता है जरूर करे यह वक़्त है जब लोगों को हमारी ज़रूरत है।लोगों को उर्स की बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि मज़हब के नाम के झगड़ा करने वाले याद रखें मज़हब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना।
सय्यद शहीद मियां चिश्ती ने कहा कि दिल्ली में जिस तरह का मंज़र दिखा वह डराने वाला है लेकिन वहीं लोगों ने जिस तरह इंसानियत का पैगाम दिया उसकी जितनी तारीफ की जाए कम है मुसीबत की इस घड़ी में हम सब सभी पीड़ितों के साथ हैं और दुआ करते हैं कि मुल्क में अमन और शांति रहे जो लोग परेशान हुए है उनकी हर मुमकिन मदद की जाए बोर्ड ने क़दम उठाया है हम सब इसकी हिमायत करते हैं सभी लोगों को ख़्वाजा का उर्स मुबारक हो.

प्रेस कांफ्रेंस में बोर्ड के तमाम ज़िम्मेदार मौजूद रहे इस अवसर पर मदद के लिए अल अशरफ ट्रस्ट का एकाउंट नंबर जारी किया गया जिसके जरिए लोग मदद भेज सकें।

Account Details :

Bank: Vijaya Bank

A/C: 606301011003687

Name: Al Ashraf Trust

Ifsc : VIJB0006065